Translate

Thursday, August 2, 2012

बेबस औ लाचार को, मत करना तुम तँग। रामदीन अब उठ गया, हो जाएगा जँग॥ 2

No comments:

Post a Comment